Samachar Live
  • Home
  • सामाजिक
  • एक अनोखा प्रयास मानवता और जनकल्याण के हित के लिए l
सामाजिक

एक अनोखा प्रयास मानवता और जनकल्याण के हित के लिए l

स्वामी गगनगिरी महाराज के मनोरी आश्रम में सम्पन्न हुआ लक्ष-लक्ष दीप महोस्तव. यह महोस्तव पिछले १८  साल से बड़े ही धूम धाम से मनाया जाता है l लक्ष-लक्ष दीप महोस्तव का मुख्य उद्देश्य यही है की ” मानव कल्याण और विश्वशांति “.

आश्रममे हर साल दशहरे से कोजागिरी तक विविध उत्सव मनाये जाते है परन्तु सबसे बड़ा महोस्तव लक्ष-लक्ष दिप है l मनोरी आश्रम के संस्थापक कै. अमृतराव बाळासाहेब पाटणकर इनके प्रेरणा और आश्रम के मुख्यव्यवस्थापक श्री. निषाद अमृतराव पाटणकर इनके मार्गदर्शन से तथा संजय विलास नार्वेकर के सयोग से यह कार्य सफल होता है l

इस महोस्तव मे हर साल जैसे इस साल भी स्वामी के भक्तो ने १ लाख ७५ हजार दिए प्रज्वलित किए है l यह दीपोस्तव इतना प्रसिद्ध है की इस महोस्तव की नोंद सबसे प्रसिद्ध लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड वर्ल्ड रिकॉर्ड इंडिया और सबसे बड़े इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में कि गई है l

इस उत्सव में पालखी भजन कीर्तन सत्यनारायण की महापूजा मिरवणूक , आरोग्य शिबिर , सामूहिक लघुरुद्र यग्न्य तथा छप्पन भोग जैसे अनेक कार्य सम्पन्न किये जाते है. महाराष्ट्र से ही नहीं तो सारे देश विदेशो से लोक बड़ी संख्या में इस उत्सव में शामिल होने आते है और महाप्रसाद का लाभ उठाते हैं l

आश्रम के भक्तजन और सेवेकरी वर्ग की मेहनत से यह कार्य संपन्न किया जाता है l

 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy